cryptocurrency.

संसद टीवी संवाद

क्रिप्टोकरेंसी वर्तमान वित्तीय दुनिया में हो रहे बहुत सारे तकनीकी परिवर्तनों में से एक का उदाहरण है और अब नई चुनौतियों को स्वीकार करने के साथ-साथ प्रतिभूति बाज़ार सहित मुद्रा बाज़ारों के लिये एक नए एकीकृत विनियमन की अनुमति देने का मौका है।

यह डिजिटल तकनीक में एक नई क्रांति पैदा कर सकती है जिसे भारत खोना नहीं चाहेगा, लेकिन साथ ही वह आंतरिक सुरक्षा और अन्य संबंधित मुद्दों को लेकर भी जोखिम नहीं उठा सकता है।

विगत वर्ष के प्रश्न (PYQ)

“ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी” के संदर्भ में निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिये: (वर्ष 2020)

Cryptocurrency : आखिर क्यों साथ छोड़ रहीं ये करेंसी, लेकिन इस करेंसी ने दिया निवेशकों को फायदा

Crypto Market : अगर आप अपना पैसा कहीं निवेश करने की सोच रहे हैं। और चाहते हैं कि आप जहां निवेश करें वहां आपका पैसा डबल हो, तो आपका सपना अब पूरा हो सकता है। इस समय दुनिया की सबसे लोकप्रिय क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) बाजार का नाम काफी सुर्खियों में है। वर्तमान में लोगों ने क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) को अमीर बनने का सबसे सरल मार्ग समझ लिया है। लोग क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) के माध्यम से काफी पैसा कमा रहे हैं। लेकिन क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) से क्रिप्टोक्यूरेंसी का मूल्य क्यों है? अमीर बनने का रास्ता समझने वाले लोगों के सपने उस वक्त टूट गए जब दुनिया भर की सरकारों ने इस मार्केट पर सख्ती बरतना शुरू किया। सरकारों की सख्तियों के कारण ये मार्केट अचानक से लुढ़कने लग गया। लेकिन बावजूद इसके कई क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) लोगों को कई गुना ज्यादा मुनाफा उपलब्ध करा रही थीं।

क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) मार्केट में आज लगभग हर क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) घाटे में चल रही हैं। लेकिन इसका असर आज कार्डानो क्रिप्टोकरेंसी (Cardano Cryptocurrency) के निवेशकों (Investets) पर देखने को नहीं मिला है। अगर कार्डानो क्रिप्टोकरेंसी (Cardano Cryptocurrency) के ताजा रेट्स की बात करें तो अभी तक (खबर लिखे जाने तक) कार्डानो क्रिप्टोकरेंसी (Cardano Cryptocurrency) के रेट 0.21 फीसदी बढ़ोतरी के साथ यूएस डॉलर में 0.34 है। वहीं भारतीय मुद्रा में इसके रेट 27.36 रूपये हैं। वहीं इस दौरान इसकी ऑलटाइम हाई कीमत 3.10 डॉलर रही है।

बिटक्वाइन क्रिप्टोकरेंसी (Bitcoin Cryptocurrency) के ताजा रेट (Latest Rate of Bitcoin Cryptocurrency) -

बिटक्वाइन क्रिप्टोकरेंसी (Bitcoin Cryptocurrency) के रेट्स भी आज काफी गिरते हुए नजर आ रहे हैं। अगर बिटक्वाइन क्रिप्टोकरेंसी (Bitcoin Cryptocurrency) के ताजा रेट्स की बात करें तो इसके ताजा रेट (खबर लिखे जाने तक) 0.95 फीसदी की गिरावट के साथ यूएस डॉलर में 16,719.80 हैं। साथ ही इसकी भारतीय मुद्रा में कीमत 13,57,664.48 रूपये है। वहीं इसकी ऑल टाइम हाई कीमत 68,990.90 यूएस डॉलर रही है।

क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) बाजार में लगातार गिरावट का असर एथेरियम क्रिप्टोकरेंसी (ETH Cryptocurrency) पर भी पड़ा है। अगर एथेरियम क्रिप्टोकरेंसी (ETH Cryptocurrency) के ताजा रेट की बात करें तो अभी तक (खबर लिखे जाने तक) इसकी कीमत 0.40 फीसदी घाटे के साथ यूएस डॉलर में 1,286.27 है। वहीं भारतीय मुद्रा में इसकी कीमत 1,05,974.24 रूपये है। इस दौरान एथेरियम क्रिप्टोकरेंसी (ETH Cryptocurrency) की ऑलटाइम हाई कीमत 4,865.57 डॉलर रही है।

क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) बाजार में एक्सआरपी क्रिप्टोकरेंसी (XRP Cryptocurrency) की कीमत भी घटती नजर आ रही है। अगर एक्सआरपी क्रिप्टोकरेंसी (XRP Cryptocurrency) के ताजा रेट्स की बात करें तो अभी तक (खबर लिखे जाने तक) इसके रेट 1.36 फीसदी लुढ़कते हुए अभी यूएस डॉलर में 0.38 है। वहीं भारतीय मुद्रा में इसकी कीमत 31.10 रूपये है। साथ ही इस दौरान इसकी ऑलटाइम हाई कीमत 3.40 डॉलर रही है।

आपके काम की हर महत्वपूर्ण खबर और अपडेट उपलब्ध है हमारे इस वेबसाइट पर। चाहे हो रोजगार से जुड़ी खबर या हो योजनाओं संबंधी जानकारी हर अपडेट और हर खबर आपको मिलेगी हमारे इस वेबसाइट पर। अगर आप चाहते हैं कि जब भी हम कोई खबर प्रकाशित करें तो आपको उसका नोटिफिकेशन मिले तो आप हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़ सकते हैं जिसका लिंक इस पोस्ट के नीचे हरे रंग की पट्टी में दिया गया है। नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके आप हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़ सकते हैं और हर अपडेट का नोटिफिकेशन सबसे तेज और पहले प्राप्त कर सकते हैं। हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़ने का सबसे बड़ा लाभ यह है कि आपको हर खबर का नोटिफिकेशन सबसे तेज मिल जाता है और आपसे आपके काम की कोई भी महत्वपूर्ण खबर नहीं छूटती है।

You might like

Connect With Us

GOOGLE PAY EARN MONEY : गूगल ने शुरू किया दमदार ऑफर, मिलेगा ₹50000 तक का सीधा लाभ

नवोदय विद्यालय भर्ती : 23080 चपरासी, क्लर्क सहित विभिन्न पदों पर 8वीं 10वीं पास के लिए बंपर भर्ती

पंचायत सेक्रेटरी भर्ती : 8400 पदों पर 12वीं पास के लिए पंचायती राज विभाग में बंपर भर्ती, जानें पूरी प्रक्रिया

Post Of The Day

UP SCHOLARSHIP : यूपी स्कॉलरशिप के लिए परेशान विद्यार्थी, आवेदन तिथि पर बड़ी अपडेट

Explore Categories

Allahabad University Family क्रिप्टोक्यूरेंसी का मूल्य क्यों है? क्रिप्टोक्यूरेंसी का मूल्य क्यों है? is the largest digital media platform exclusively committed to air, update and publish all sorts of news regarding University of Allahabad 24×7. It is owned, run and was founded by students and alumni themselves on 30th April 2018 having 1.5 lakhs+ of followers across social media platforms to reinvigorate the tradition of the 4th oldest varsity. It is an academic cum activism oriented forum meant to provide enough space to students' grievances, issues and creativity. It's ultimate objective is to act as an all weather bridge between the Varsity administration and the students. Ours is an eclectic genre encompassing live sessions, orientations, interviews, helplines, protests , internships, co-curricular activities and lot more depending upon the desires and wishes of the student fraternity.

क्यों बढ़ेगी बिटकाॅइन की कीमत और घटेगी रूपए की कीमत? (Will Bitcoin’s Value Appreciate And Rupee’s Value Depreciate With Time?

Home » All Posts » क्यों बढ़ेगी बिटकाॅइन की कीमत और घटेगी रूपए की कीमत? (Will Bitcoin’s Value Appreciate And Rupee’s Value Depreciate With Time?

Table of Contents

Note: क्रिप्टोक्यूरेंसी का मूल्य क्यों है? This post has been written by a WazirX Warrior as a part of the “WazirX Warrior program“.

बिटकॉइन और पैसे के बीच में ऐसी बहुत सी बातें हैं जो बिटकॉइन को दुनिया की किसी भी मुद्रा से बेहतर और सबसे ज्यादा तेज़ गति से बढ़ने वाला निवेश बनती है।इस एक आर्टिकल में जानते हैं कुछ खास बातें मुद्रा और बिटकॉइन के बारे में।

बिटकॉइन की संख्या निर्धारित और मुद्रा की नहीं

किसी भी देश की मुद्रा पर सौ प्रतिशत नियंत्रण उस देश के केंद्रीय बैंक और सरकार का होता है और यही केंद्रीय नेतृत्व देश की मुद्रा से सम्बंधित सभी तरह के निर्णय लेता है।इस की सबसे बड़ी समस्या यह है की यह केंद्रीय नेतृत्व अपनी सुविधा और जरुरत के अनुसार जितना चाहे उतनी मुद्रा को बना सकते हैं,यह आमतौर पर देश की अर्थव्यवस्था को सही रूप से चलाने के लिए किया जाता है।लेकिन इस से एक बहुत बड़ी समस्या पैदा होती है और वह है मुद्रा की कीमत में गिरावट।आज से 30-40 साल पहले भारत में एक पैसा,दो क्रिप्टोक्यूरेंसी का मूल्य क्यों है? पैसा,तीन पैसा,पांच पैसा,दस पैसा,बीस पैसा,पचीस पैसा और पचास पैसा भी बाजार में प्रचलन में था लेकिन आज रिज़र्व बैंक ने क्रिप्टोक्यूरेंसी का मूल्य क्यों है? इन सभी सिक्कों को बनाना बंद कर दिया है और इसका कारण है रुपए की घटती हुई कीमत।आज एक रुपए से निचे के सिक्के से कुछ नहीं ख़रीदा जा सकता और जैसे जैसे समय आगे बढ़ेगा वैसे वैसे और मुद्रा छपेगी और रुपए की कीमत गिरती चली जाएगी।यही एक कारण है की भारत में दो हज़ार का नोट भी छापा गया जबकि अमेरिका जैसे देश में सौ डॉलर से बड़ा नोट नहीं छपता।अगर आप अफगानिस्तान,इंडोनेशिया या कुछ और देशों में देखेंगे तो आपको यहाँ बहुत बड़ी कीमत के नोट भी देखने को मिल जाते हैं क्योंकि इन देशों की मुद्रा की कीमत बहुत कम है।

बिटकॉइन की लगातार बढ़ती कीमत का कारण है इसका विकेन्द्रीयकरण और कुल दो करोड़ दस लाख बिटकॉइन का होना।क्योंकि बिटकॉइन की संख्या सीमित है और इसको इस से ज्यादा नहीं बनाया जा सकता जबकि इसकी मांग दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही है इसी लिए बिटकॉइन की कीमत में भी पिछले दस सालों में बहुत तेजी से वृद्धि हुई है।समय के साथ साथ बिटकॉइन की माइनिंग से निकलने की रफ़्तार भी कम होती चली जाएगी जैसा की 2009 में जहां हर 10 मिनट में एक ब्लॉक बनाने पर 50 बिटकॉइन बाजार में आता था वह अब केवल 6.25 रह गया है और हर चार साल में बिटकॉइन के बनने की रफ़्तार आधी होती जाएगी जबकि जैसे जैसे लोगों को इसके बारे में पता चलेगा वैसे वैसे बिटकॉइन की मांग बढ़ेगी और कीमत भी।जैसा की हमने आपको पहले बताया था की समय के साथ साथ सिक्कों की कीमत कम हो रही है लेकिन बिटकॉइन की कीमत बढ़ रही है और बिटकॉइन की सीमा निर्धारित है तो ज्यादा लोगों तक बिटकॉइन पहुंचे इस लिए एक बिटकॉइन को एक करोड़ हिस्सों में बांटा गया है जिसे सातोशी कहते हैं।आज एक बिटकॉइन ग्यारह हज़ार डॉलर का है और ज्यादतर लोगों के लिए एक पूरा बिटकॉइन लेना संभव नहीं है इस लिए सातोशी में निवेश किया जा सकता है।बिटकाॅइन को बनाते समय एक दूरदर्शिता की सोच ने ही इसके एक करोड़ हिस्से तक विभाजन की प्रक्रिया को बनाया ताकि सीमित होते हुए भी यह ज्यादा से ज्यादा लोगों के पास पहुंच सके।किसी भी देश की मुद्रा को केवल दो अंकों तक ही बांटा जा सकता है क्योंकि इसे नियंत्रित करने वाला केन्द्रीकृत सिस्टम यह जानता है कि समय के साथ साथ उनकी मुद्रा के छोटे हिस्सों का कोई मूल्य ही नहीं रहेगा।

मुद्रा की नकल लेकिन बिटकॉइन की नहीं

बिटकॉइन की कीमत के बढ़ने का कारण इसे हैक न कर पाना और इसकी नकल न कर पाना भी है।बिटकॉइन नेटवर्क को हैक कर पाना लगभग असंभव है क्योंकि बिटकॉइन नेटवर्क को माइनर्स CPU से सुरक्षा देते हैं और बिटकॉइन नेटवर्क को हैक या नकली ब्लॉकचेन बनाने के लिए आज तक बने सभी ब्लॉक को दोबारा बनाना होगा और आज की ब्लॉकचेन से ज्यादा हैश पावर बनानी होगी लेकिन यह संभव नहीं है क्योंकि एक ब्लॉक अगर 10 मिनिट से पहले बनता है तो डिफीकल्टी बढ़ती जाएगी और मुख्य चेन की बराबरी असंभव हो जएगी।इस कारण से बिटकाॅइन की नकल असंभव है जबकि किसी भी देश की मुद्रा की नकल करना आसान है और लगभग हर देश की नकली मुद्रा बाजार में है और यह भी एक कारण है मुद्रा की कीमत के निचे गिरने का।

मुद्रा को बंद किया जा सकता है जबकि बिटकाॅइन को नहीं

किसी भी देश की सरकार के पास यह अधिकार होता है की वह अपने द्वारा क्रिप्टोक्यूरेंसी का मूल्य क्यों है? संचालित मुद्रा को कभी भी बंद कर सकती है और उसमे बदलाव कर सकती है।ऐसा समय से साथ साथ हर देश में होता आया है जबकि बिटकॉइन नेटवर्क विकेन्द्रीयकरण होने के कारण बिटकॉइन को न तो रोका जा सकता है और न ही बैन किया जा सकता है।यह एक बहुत बड़ा कारण है की एक समझदार निवेशक जिसे बिटकॉइन की जानकारी है वह सुरक्षित निवेश के लिए हमेशा बिटकॉइन को चुनेगा और जैसे जैसे लोगों को इसकी जानकारी होगी और बिटकॉइन में निवेश बढ़ेगा वैसे वैसे बिटकॉइन की कीमत भी ऊपर की तरफ बढ़ती जाएगी।

इन सब के इलावा बिटकॉइन को बार बार बनाने की जरुरत नहीं है जबकि मुद्रा को हर थोड़े समय के बाद छापना पड़ता है क्योंकि कागज़ की उम्र बहुत कम होती है।रखरखाव के मामले में भी बिटकॉइन मुद्रा से ज्यादा सुरक्षित और आसान है क्योंकि यह डिजिटल रूप में है और सारी दुनिया का बिटकॉइन मात्र एक फ़ोन में भी रखा जा सकता है और पूरी सुरक्षा के साथ।

तो यह कुछ कारण हैं जो बिटकॉइन को हर हाल में मुद्रा से बेहतर बनाते हैं साथ जी बिटकॉइन की तकनीक में मौजूदा गुणों के कारण बिटकॉइन की कीमत को समय से साथ साथ बढ़ने से कोई नहीं रोक सकता जबकि इसके विपरीत मुद्रा के केन्द्रीयकरण और खामियों के कारण इसकी कीमत को समय के साथ साथ घटने से कोई नहीं बचा सकता।

WazirX Warriors – CryptoNewsHindi

Cryptonewshindi is one of the top crypto media platforms in the national language of India which is Hindi. We started our operations and worked with many big crypto brands. We helped in translating & explaining bitcoin Whitepaper in narrative language with WazirX’s support. Visit here for YouTube videos.

Disclaimer: Cryptocurrency is not a legal tender and is currently unregulated. Kindly ensure that you undertake sufficient risk assessment when trading cryptocurrencies as they are often subject to high price volatility. The information provided in this section doesn't represent any investment advice or WazirX's official position. WazirX reserves the right in its sole discretion to amend or change this blog post at any time and for any reasons without prior notice.

क्रिप्टो मार्केट में मचा कोहराम, लोगों को एक ही दिन में हो गया मोटा नुकसान!

Cryptocurrency: क्रिप्टो मार्केट में आज जबरदस्त अफरा-तफरी देखने को मिल रही है, लगभग सभी बड़ी क्रिप्टोकरेंसी आज गिरावट ट्रेड कर रही है। लगभग 3 महीने के बाद ग्लोबल क्रिप्टो मार्केट कैप $1 लाख करोड़ के नीचे पहुंच गया है।

Updated Nov 9, 2022 | 05:03 PM IST

crypto

Cryptocurrency: क्रिप्टो मार्केट में मचा कोहराम!

  • क्रिप्टोकरेंसी के मार्केट कैप में 1 दिन में $100 अरब से ज्यादा की घटी।
  • 3 महीने के बाद मार्केट कैप $1 लाख करोड़ के नीचे।
  • ग्लोबल क्रिप्टो मार्केट में 12 घंटे में 12% की गिरावट।

नई दिल्ली। क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) मार्केट में आज भारी गिरावट देखी जा रही है और इस गिरावट का आलम कुछ इस प्रकार है कि ग्लोबल क्रिप्टोकरेंसी की मार्केट कैप में 1 दिन में $100 अरब से ज्यादा घटकर लगभग 3 महीने के बाद कैप $1 लाख करोड़ के नीचे पहुंच गई है। ग्लोबल क्रिप्टो मार्केट में पिछले 12 घंटे में क्रिप्टोक्यूरेंसी का मूल्य क्यों है? 12% की गिरावट भी देखने को मिली है। पिछले 48 घंटे में FTX टोकन 95% टूटा तो वहीं बिटकॉइन (Bitcoin) $18,000 तक फिसला गया।

क्रिप्टोकरेंसी में बिकवाली बढ़ने से FTX एक्सचेंज का दिवालिया होने का खतरा मंडरा रहा है। दरअसल दिवालिया होने की अफवाह से FTX टोकन की बिकवाली बढ़ी। आपको बता दें कि दुनिया के सबसे बड़े क्रिप्टो एक्सचेंज Binance ने लिक्विडिटी की समस्या से जूझ रहे दुनिया के तीसरे सबसे बड़े क्रिप्टो एक्सचेंज FTX को खरीदने का ऐलान किया। Binance का कहना है कि वे FTX खरीदने के बेहद करीब हैं।

cryptocurrency

cryptocurrency.

FTX एक्सचेंज में लिक्विडिटी संकट की रिपोर्ट के चलते क्रिप्टो मार्केट में उथल-पुथल मच गई। बिनांस (Binance) के CEO चांगपेंग झाओ (Changpeng Zhao) ने 8 नवंबर की सुबह ट्वीट कर कहा कि एफटीएक्स (FTX) में लिक्विडिटी एक बड़ा संकट है और इस समस्या को हल करने के लिए FTX द्वारा मदद मांगे जाने के बाद उन्होंने एक नॉन बाइंडिंग एग्रीमेंट पर हस्ताक्षर किए हैं, जिसका मकसद FTX का पूरी तरह से अधिग्रहण करना और लिक्विडिटी के संकट को दूर करना है।

भारतीय निवेशकों ने भी क्रिप्टो बेचना शुरू कर दिया। भारत में भी क्रिप्टोकरेंसी में पैनिक सेलिंग देखने को मिली।अक्टूबर 2021 के बाद से क्रिप्टो ट्रेडिंग में 90-95% की गिरावट दर्ज की गई और भारत में टैक्स नियमों से भी क्रिप्टो में ट्रेड का रुझान कम हुआ है।

रेटिंग: 4.86
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 93