यह भी पढ़ें : निवेश का विकल्प 2 : बचत योजनाएँ
निवेश पोर्टफोलियो हेजिंग

निवेशक का शब्दकोशः योग्य निवेशक कौन होते हैं?

कोई भी व्यक्ति या कंपनी विभिन्न परिसंपत्तियों में निवेश कर सकता है और निष्क्रिय आय प्राप्त कर सकता है। लेकिन कुछ सर्वाधिक निवेश उपकरण-समूह साधारण ट्रेडर्स को जोखिम के उच्च स्तर के चलते उपलब्ध नहीं हैं। अपने पोर्टफोलियो को निवेश पोर्टफोलियो हेजिंग विविधता प्रदान करने और गैर-मानक परिसंपत्तियों में निवेश करने के लिए आपको योग्य निवेशक का निवेश पोर्टफोलियो हेजिंग दर्जा प्राप्त करने की जरूरत होती है।

उच्च-जोखिम वाली परिसंपत्तियों में शामिल हैः

- विदेशी कंपनियों के शेयर।
- यूरोबांड्स जिन्हें शेयर बाजार के बाहर खरीदा जाता है।
- उपक्रम निवेश निधियों, हेज निधियों और अन्य बंद सिरे निवेश पोर्टफोलियो हेजिंग वाली निवेश निधियों के शेयर। इस मामले में समय-पूर्व निकासी की संभावना के बिना निधि के अस्तितत्व की समूची अवधि के लिए निवेशक का पैसा उसमें बना रहता है।
- संरचित नोट्स निवेश पोर्टफोलियो हेजिंग जिसकी उपज अंतर्निहित परिसंपत्ति की कीमत या उसके सूचकांक पर निर्भर करती है। ये प्रतिभूतियाँ स्टॉकों, तेल, सोने आदि पर निर्भर हो सकती हैं।
अमानतदार प्राप्तियाँ निवेश पोर्टफोलियो हेजिंग और अन्य उपकरण समूह जो यह इंगित करते हैं कि वे केवल योग्य निवेशकों के लिए ही उपलब्ध हैं।

Foreign Investors : एफपीआई ने 15 अगस्त तक शेयर बाजारों में डाले ₹22,452 करोड़, देखें क्या है अपडेट

By: ABP Live | Updated at : 15 Aug 2022 08:15 PM (IST)

Edited By: Sandeep

Foreign Portfolio Investors in India : भारतीय शेयरों (Indian Stocks) में विदेशी पोर्टफोलियो निवेशक यानी एफपीआई (​Foreign Portfolio Investors) ने अगस्त के पहले दो सप्ताह में जबरदस्त खरीदारी की है. पिछले महीने एफपीआई एक लंबे अंतराल के बाद भारतीय शेयर बाजारों में शुद्ध निवेश किया है. विदेशी निवेशकों निवेश पोर्टफोलियो हेजिंग ने अगस्त के पहले 2 सप्ताह में शेयर बाजारों में 22,452 करोड़ रुपये डाले हैं.

जुलाई में 5,000 करोड़ रुपये डाले
डिपॉजिटरी के आंकड़ों के मुताबिक, इससे पहले एफपीआई ने जुलाई के पूरे महीने में शेयरों में करीब 5,000 करोड़ रुपये डाले थे. लगातार 9 महीने तक निकासी के बाद जुलाई में एफपीआई पहली बार शुद्ध लिवाल बने थे. पिछले साल अक्टूबर से वे लगातार बिकवाल बने हुए थे. अक्टूबर, 2021 से जून, 2022 तक विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने 2.46 लाख करोड़ रुपये के शेयर बेचे थे.

निवेश करना सीखें

दुनिया भर में हो रहे विकास कार्यों के चलते आपकी सोच में भी अधिक तेजी से सर्वोत्कृष्ट श्रेणी के किराया देने वाले वाणिज्यिक संपदाओं का निर्माण हो रहा है. विविध रूप के इन निर्माण कार्यों में गोदाम, को-लिविंग, को-वर्किंग स्थान और यहाँ तक कि स्टूडेंट के रहने की निवेश पोर्टफोलियो हेजिंग जगह शामिल हैं जो कम राशि के निवेश पर सबसे बढ़िया रिटर्न देते हैं.

तथ्य यह है कि निवेशक अब छोटे-छोटे ऑफिस स्पेस के बदले सह-आवासीय स्थानों का रुख कर रहे हैं. कहने का उद्देश्य यह है कि इस ट्रेंड के साथ चलें और अपना धन निर्माण कार्यों में निवेश करें जिससे दूसरों को फायदा हो सकता है. साथ ही यह ट्रेंड भी है जहां निवेशक पहले प्लाट/जमीन खरीद लेते हैं, फिर उसे विकसित करते हैं और को-वर्किंग संस्थानों को उन स्थानों के प्रबंधन के लिए सौंप देते हैं.

एक और बेहद विचारणीय और उचित विकल्प है मालगोदाम का. यहाँ निवेशक संपत्ति को प्रबंधन के लिए किसी थर्ड पार्टी को सीधे आउटसोर्स कर देता है.

रेटिंग: 4.17
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 863